Best 25 Gulzar Shayari In Hindi – हिंदी शायरी
gulzar shayari in hindi

Best 25 Gulzar Shayari In Hindi – हिंदी शायरी


नाम : संपूर्ण सिंह कालरा ( गुलज़ार ) ,
जन्म
-१८ अगस्त १९३६ (दीना, झेलम जिला, पंजाब – British India ) ,
जीवनसाथी : राखी गुलज़ार,
पेशा : कवि, गीतकार और फिल्म ,
पिता : माखन सिंह कालरा ,
माता : सुजान कौर .

Best Gulzar Shayari In Hindi

Gulzar Shayari In Hindi


ग़म मौत का नहीं है,
ग़म ये के आखिरी वक़्त भी,
तू मेरे घर नहीं है.

Gam maut ka nahi hai,
gam ye ke aakhiri vakt bhi,
tu mere ghar nahi hai

– Gulzar Shayari In Hindi

Gulzar Shayari In Hindi
ग़म मौत का नहीं है,
ग़म ये के आखिरी वक़्त भी,
तू मेरे घर नहीं है.
Advertisement

सुकून

उसी के पास मिलता है
दिन चाहे किसी के साथ गुजार लूँ ।

SUKOON

Usi ke pass milta hai
din chahe kisi ke saath gujaar lu.


जब लोगों का
मन भर जाता हैं
तब वो कोई न कोई
बहाना बनाकर हमे छोड़ देते है.

Jab logon ka
man bhar jaata hai
tab vo koi na koi
bahaana banaakar hame chhod dete hai.

– Gulzar Shayari In Hindi


Gulzar 2 line Shayari In Hindi

बात ना हो तो चलता है
मगर कोई भूल जाए तो बहुत
खलता है ।

Baat na ho to chalata hai
magar koi bhool jaye to bahoot
khalata hai.

Gulzar Shayari In Hindi
बात ना हो तो चलता है
मगर कोई भूल जाए तो बहुत
खलता है ।

Gulzar shayari in english & hindi

जमाने में तन्हाइयो का
आलम तो देखिये

हम खुद को तकते है
ले ले के सेल्फ़िया

Jamaane me tanhaiyoo ka
aalam to dekhiye
ham khud ko takate hai
le le ke selfiya


कितनी अजीब है इस शहर की तन्हाइ भी
हजारों लोग हैं मगर कोई उस जैसा नहीं.

Kitani ajeeb hai is shahar ki tanhai bhi,
hajaaro log hai magar koi us jaisa nahin.


Gulzar Shayari In Hindi

वफ़ा की उम्मीद
ना करो उन लोंगो से ,

जो मिलते है किसीऔर से
होते है किसी और के …

Vafaa ki ummid na karo
us logon se ,
jo milate hai kisi aur se
hote hai kisi aur ke.


मेरी एक चाहत है की
एक चाहने वाले ऐसा हो
जो चाहने में
बिलकुल मेरे जैसा हो

Meri ek chaahat hai ki
ek chahane vala aisa ho,
jo chahane mein
bilkul mere jaisa ho..


कुछ शिकायते बनी रहे
तो बेहतर है
चाशनी में डूबे रिश्ते
वफादार नहीं होते ।

Kucch shikaayatein bani rahe
to behatar hai,
chashani me dubein rishte
vafadaar nahi hotein.


उसकी मोहब्बत को कुछ इस तरह से निभाते है हम
वो नही है तक़दीर मे फिर भी उसे चाहते है हम.

Usaki mohabbat ko kucch is tarah se nibhaate hai haum
vo nhi hai takdeer mai fir bhi use chahate hai hum.


उम्र गुज़र गई पर
कोई तुमसा मिला नहीं
लोग यूँही कहते है
की खोजने से खुदा भी मिलता है

Umra gujar gayi par
koi tumsa mila nahi
log yunhi kahate hai
ki khojane se khuda mi milta hai


कुछ अलग करना हो तो
भीड़ से हट के चलिए,
भीड़ साहस तो देती हैं
मगर पहचान छिन लेती हैं.

Kucch alag karana ho to
bheed se hat ke chaliye,

bheed sahas to deti hai
magar pahachaan chhin leti hai


कोइ पुछ रहा है मुझसे मेरी ज़िन्दगी कि कीमत
मुझे याद आ रहा है तेरा हलके से मुस्कराना

Koi pucch raha hai muzase meri jeendagi ki keemat..
Muze yaad aa raha hai tera halke se muskuraana…


क्यों एक दिल कि दूसरे दिल
को खबर ना हो
वो दर्द-इ-इश्क़ ही क्या हैं
जो इधर उधर न हो

Kyon ek dil ki dusare dil
ko khabar naa ho,
vo dard-e-ishq hi kya hai,
jo idhar udhar na ho

Gulzar Shayari In Hindi
क्यों एक दिल कि दूसरे दिल
को खबर ना हो
वो दर्द-इ-इश्क़ ही क्या हैं
जो इधर उधर न हो
Advertisement

Gulzar Shayari On Love In Hindi


Agar Ansuo ki
kimat hoti to
kal raat vaala takiyaa
arabo ka hota.


जरूरी नहीं हर रिश्ते को
मोहब्ब्बत का नाम दिया जाएं
कुछ रिश्तों के जजबात
मोहब्बत से बढ़कर होते है

Jaroori nahi har reeshtein ko
mohabbbat kaa naam diyaaa jaayein
Kucch rishto ke jajbaat
mohabbat se badhkar hotein hai

Gulzar Shayari On Love In Hindi
जरूरी नहीं हर रिश्ते को
मोहब्ब्बत का नाम दिया जाएं
कुछ रिश्तों के जजबात
मोहब्बत से बढ़कर होते है

इश्क है तो शक कैसा
नहीं है तो हक़ कैसा .

ishq hai to kaisa
nahi hai to hak kaisa.


मोहब्बत करने वालो की
कमी नहीं है इस दुनिया में
अकाल पड़ा है मोहब्ब्बत
निभाने वालो का .

Mohabbat karane valon ki
kami nahi hai is duniya me
akal pada hai
mohabbat Nibhaane valoo ka.


अब मुझे ना दिलाओ
मोहब्बत का यकीन

जो मुझे भूल नहीं सकत्ते थे
वो भी भूल गए है ।

Ab muze na dilaao
mohabbat ka yakin
Jo bhool nahi sakate the
vo bhi bhool gayein.


जिस खुदा से कभी माँगा था तुम्हे ,
आज उसी खुदा से तुम्हे भुलाने
की ताकत मांगी है..…

Jees khuda se kabhi manga tha tumhe,
aaj usi khuda se tumhe bhulaane
ki takat mangi hai…

Gulzar Shayari On Love In Hindi
जिस खुदा से कभी माँगा था तुम्हे ,
आज उसी खुदा से तुम्हे भुलाने
की ताकत मांगी है..…
Advertisement

सोचा तेरी बेवफाई का हिसाब कराऊ
सच कहु तुम फिर बे हिसाब याद आएं

Socha teri bewafaai ka hisaaab kar aau.
sach kahu tum fir be hisaab yaad ayein


Gulzar shayri on frindship in hindi

Gulzar Shayari On Friendship

Gulzar Shayari On Friends


Milane jo pahuncha dushmano ke ghar,
apane hi dosto se mulakhaat ho gayi.


प्यार तुम छोडो
मेरे दोस्त ही बने रहो ,
क्योंकि प्यार बदल जाता है ,
मगर यार नहीं .

Pyaar tum chhodo
mere dost hi bane raho,,
kyonki pyaar badal jaata hai,
magar yaar nahin.

Gulzar Shayari On Friendship
प्यार तुम छोडो मेरे दोस्त ही बने रहो ,
क्योंकि प्यार बदल जाता है , मगर यार नहीं .

दोस्तों के नाम का एक ख़त
जेब में रख कर क्या चला..
करीब से गुजरने वाले पूछते
इत्र का नाम क्या हैं

Dosto ke naam ka ek khat
jeb me rakh kar kya chala..
Karib se guzarane vaale pucchte
itra ka naam kya hai


गये थे सोच कर की बात
बचपन की होगी
मगर दोस्त मुझे अपनी
तरक्की सुनाने लगे..

Gaye the soch kar ki baat
bachapan ki hogi

magar dost mujhe apani
tarakki sunaane lage..

Gulzar Shayari On Friendship
गये थे सोच कर की बात बचपन की होगी मगर दोस्त मुझे अपनी तरक्की सुनाने लगे..
Advertisement

तमन्नावो की महफ़िल तो हर कोई
सजाता है
इ दोस्तों
लेकिन पूरी उसकी ही होती है
जो तकदीर लेकर आती है

Tammanavo ki mahafil to har koi
sajaaata hai,
e dosto
lekin poori usaki hi hoti hai
jo takdeer lekar ata hai


जरा तमीज से समेटना
बुझे दिया को दोस्तो
अमावस के अंधेरे में
इन्होने हमें रोशनी दी है.

Jara tamij se sametana
bujhe diyaa ko doosto
amavas ke andhere me
inhone hame roshani di hai.


सोचता हु दोस्तों पर मुक़दमा कर दू
इसी बहाने तारीखों पर मुलाकात तो होगी.

sochata hu dosto par mukadama kar du,
isi bahaane tarikhon par mulakat to hogi.

Gulzar Shayari On Friendship
सोचता हु दोस्तों पर मुक़दमा कर दू इसी बहाने तारीखों पर मुलाकात तो होगी.
Advertisement

Gulzar Shayari On Life In Hindi

Gulzar Shayari On Zindagi


सीखा दिया वक्त ने मुझे
अपनों पे भी शक करना
वरना फितरत थी गैरो पर भी
भरोसा करने की ।

Sikhaa diya vakt ne muze
apno pe bhi shak karana

varana fitarat bhi gairo par bhi
bharosa karane ki

Gulzar Shayari On Life In Hindi
सीखा दिया वक्त ने मुझे अपनों पे भी शक करना वरना फितरत थी गैरो पर भी भरोसा करने की ।
Advertisement

 एक सपने के टूटकर चकनाचूर हो जाने के बाद,
दूसरा सपना देखने के हौसले का नाम जिंदगी हैं। 

Ek sapane tootkar chakana chur ho jaane ke baad,
doosra sapna dekhne ke hausle ka naam jindagi hai


मत पुछो कैसे गुजारता है हर पल तुम्हारे बिना..
कभी बात करने की हसरत तो कभी देखने की तमन्ना .

Mat puccho kaise gujarata hai
har pal tumhaare bina..
kabhi baat karane ki hasarat
to kabhi dekhane ki tamanna .


तुम जिन्दगी की वो कमी हो
जो जिंदगी भर रहेगी.

Tum jeendagi ki vo kami ho,
jo jindagi bhar rahegi.


नाराज हमेशा खुशियां ही होती हैं
ग़मो के इतने नखरे नहीं होतें

Naaraj hamesha khoshiyaan hi hoti hai,
ghamo ke itane nakhare nahi hotein


इतना क्यों सिखाएं
जा रहीं हो जिंदगी..
हमें कौन सी सदिया
गुजारनी है यहाँ

Itana kyon sikhaayein
jaa rahi ho jindagi..
hame kaun si sadiyaa
gujaarani hai yahaaan.


लगता है आज जिन्दगी
कुछ खफा हैं
चलिये छोड़िये कौनसी
पहली दफा हैं

Lagata hai aaj jeendagi
kucch khafa hai
chaliye chhodiye Kaunasi
pahali dafa hai


थम के रह जाती है
ज़िन्दगी….
जब जाम के बरसाती
है पुरानी यादें..

Tham ke rah jaati hai
zindagi….
jab jam ke bartsaati
hai puraani yaadein…


भीड़ मे भी आज कुछ अखेला हु
इस शोर मे भी
तेरी आवाज का इन्तजार है…..

Bheed me bhi aaj kucch akhela hu
is shor me bhi
teri awaaj ka intjaar hai…..


उम्र बढ़ती रहेगी
साल घटते रहेंगे
और होती रहेगी गुफ़्तगू…
हैप्पी बर्थडे TOO यू.

Umra badati rahegi
saal ghatate rahenge
aur hoti rahegi guftgu…
happy birthday to you.

Gulzar Shayari On Life In Hindi
उम्र बढ़ती रहेगी साल घटते रहेंगे और होती रहेगी गुफ़्तगू… हैप्पी बर्थडे TOO यू.
Advertisement

ये सोच कर बैठी हु..
एक राह तो वो होगी
तुम तक जो पहुँचती हैं
इस मोड़ से जाती है.

ye soch kar baithi hu..
ek raah to vo hogi
tum tak jo pahunchti hai
es mod se jaati hai.

– gulzar shayari 2 line


ज़िन्दगी छोटी नहीं होती है…
लोग जीना ही देरी से शुरू करते है…

Zindagi chhoti nahi hoti hai…
log jeena hi deri se shuru karate hai…

Gulzar Shayari On Life In Hindi
Advertisement

See This :


Advertisement

Leave a Reply